आख़िरकार झूठी साबित हुईं तनुश्री दत्ता, बाइज्ज़त बरी हुए नाना पाटेकर

तनुश्री दत्ता और नाना पाटेकर के बीच चल रहे विवादों के दौर ने एक बार फिर चर्चाओं की तरफ अपना रूख मोड़ लिया है। इस विवाद में तनुश्री ने नाना पाटेकर के खिलाफ़ छेड़खानी का आरोप लगाते हुए केस दर्ज करवाया था। तनुश्री ने बताया था कि 10 साल पहले आई फिल्म हॉर्न ओके प्लीज़ के सेट पर नाना ने उनके साथ छेड़खानी की थी। लेकिन अब  ताज़ा रिपोर्ट के अनुसार नाना को इस मामले में बड़ी राहत मिलती हुई दिख रही है।

दरअसल बताया जा रहा है कि इस केस की तहकीक़ात करने के बाद अब पुलिस ने इस केस में बी रिपोर्ट फाइल की है।बी रिपोर्ट वह होता है जब पुलिस को दर्ज की शिकायत के खिलाफ एक भी सबूत नहीं मिलता है, जिससे केस और आगे नहीं बढ़ाया जा सकता है। इसी के तहत पुलिस ने केस को आगे बढ़ाने से साफ इंकार कर दिया है। इस तरह से पुलिस द्वारा उठाया गया यह कदम नाना के लिए राहत भरा है। पर तनुश्री के लिए यह किसी बड़े झटके से कम नहीं होगा।

वहीं एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार इस तनुश्री के वकील नितिन सातपुते ने भी बयान दिया। सातपुते का कहना है कि उन्हें अब तक इस संबध में अदालत या पुलिस के कोई भी सूचना नहीं मिली है। यदि ऐसा कुछ है तो वह इसे अदालत में चुनौती देंगे।

[यह भी पढ़ें: तनुश्री दत्ता ने नाना पाटेकर के ख़िलाफ़ एक और चौंकानेवाला आरोप लगाया]

बता दें कि कुछ दिनों पहले तनुश्री जब न्यूयॉर्क से लौटी थीं तब उन्होंने एक बयान जारी किया था। यहां तनुश्री ने कहा ““कुछ दिन से मीडिया में खबरें आ रही है कि मुम्बई पुलिस ने तनुश्री के मामले में अभिनेता नाना पाटेकर को क्लीन चिट दे दी है, जबकि मुंबई पुलिस ने ऐसा कोई भी स्टेटमेंट नहीं दिया है।” तनुश्री ने यह भी कहा, “नाना पाटेकर के लोग और नाना पाटेकर इस मामले के कई चश्मदीद गवाहों को स्टेटमेंट रिकॉर्ड करने से रोकने के लिए धमका रहे हैं, जिसके डर की वजह से गवाह अपना बयान दर्ज नही करा पा रहे।”


बॉलीवुड न्यूज़